200/16 Shubhas Nagar, Near Bus Stand, Narwana
Narwana
126116
Haryana
8168658171

मेरे बिखरे हुए जज्बात

299

Description 👇👇
""मेरे बिखरे हुए जज्बात" में मेरी मुकम्मल तन्हाई है
शामिल हर एक मेरी आँखों के अश्को में उसके अक्स की परछाई है,मैं हाल ए दिल लिखता रहा उसकी याद में ,मगर उसने कभी मुझे पीछे मुड़कर ना देखा मैं जानता हूँ वो फितरती हरजाई है ,ज़िस्म ओ रूह का रेजा रेजा आज भी महसूस करता है उसके साथ बिताए हुए हर एक उस पल को जिनमे शामिल आज भी साज ए गम की शहनाई है ,इस किताब ने मुकम्मल तरीके से मेरी रूह ए आवाज़ को मेले कफन की चादर में दफनाई है ""✍️इमरान इलाही

{{item.AttributeList.AttributeName}}:

Sorry, This variant is not avialable. Click here
× Tips: Available in variant(s)
Go To Cart
Specification

Pre-Order :

  • {{chat.Message}}

store_img
  • typing
  • Interested!
  • Price?
  • Is this still available?
  • Discount on bulk purchase?
  • Let me know when this is available.

Thanks! {{UserChatResponse.Name}}
{{UserChatResponse.ThanksMsg}}

FB